The Morality Of Fundamental Physics : A Lecture by Prof. Nima Arkani-Hamed

Have you ever thought about the possibility of a moral code, an idea of "right" and "wrong" behavior independent of human and social constructs ? Famous Physicist Prof. Nima Arkani Hamed discusses here a possibility of morality in the framework of Science. You may agree or disagree but this is an extremely thought provoking discussion.

Advertisements

“हे रघुनन्दन ! यह सब फेसबुक की माया है !”

महामुनि, धैर्य की प्रतिमूर्ति , भगवान श्रीराम  एक अँधेरी गुफा में लक्ष्मण जी के साथ बैठे थे | बाली वध के पश्चात सुग्रीव को सिंहासनासीन किये काफी समय बीत गया था | परन्तु सुग्रीव की ओर से कोई सन्देश नहीं आया | सीता माता के हरण के बाद एक एक क्षण एक एक युग के... Continue Reading →

Materials की दुनिया का सुपरमैन : Superconductor (Audio Available)

(इस लेख को बड़ी लगन के साथ अपनी अप्रतिम प्रतिभा से निर्देशित व स्वरांकित किया है नेहा और आनंद ने | उनकी इस कृति को आनंदपूर्वक सुनकर superconductors से परिचित होने के लिए इस लिंक पर जाएँ |) https://www.youtube.com/watch?v=LJK6AZ3Myi8 दिनभर की मेहनत के बाद शाम को पूरी ऊर्जा से अपनी solid state की क्लास ली... Continue Reading →

नव मार्ग भक्ति : भगवान राम का माता शबरी से संवाद

बनारस में पैदा होने के अनगिनत सौभाग्यों में से एक है गली-गली में भगवान के साक्षात दर्शन होना | बचपन से चाहे स्कूल जाना हो, कोचिंग जाना हो, बाज़ार जाना हो : हमेशा बरगद के पेड़ों के नीचे लाल देह धरे बजरंग बली हनुमान जी  के  दर्शन सुलभ होते हैं | मंगलवार और शनिवार को... Continue Reading →

न्यूनतम तापमान की खोज : गैसों के द्रवीकरण की गाथा (Audio Available)

(यह लेख सुनने के लिए भी उपलब्ध है , कुल समय : 10 min 49 sec ) https://www.youtube.com/watch?v=Jqf6vTPJ-8U जिस कंप्यूटर या फ़ोन पर आप अभी इस लेख को देख रहे हैं , वह विज्ञान के जिन सिद्धांतों आधारित है . उसके रहस्यों को समझने के लिए low temperature यानी कि बहुत कम तापमान पर किये... Continue Reading →

नन्ही सी तितली खड़ा कर सकती है तूफ़ान ! भौचक कर देने वाली Chaos Theory

1961 की एक सर्द रात को MIT के गणितज्ञ व मौसम विशेषज्ञ Edward Lorenz अपने कंप्यूटर पर मौसम सम्बंधित कुछ गणना कर रहे थे | इस गणना को अधिक गहराई से समझने के लिए वे बार बार यह गणना करते और अलग अलग महीनों  के मौसम सम्बंधित परिणामों  का अध्ययन करते रहते |उन दिनों कंप्यूटर... Continue Reading →

Don’t Get Shocked !

When we were kids, we probably received many electrical shocks due to our negligence. During those days, I used to wonder: “Why do we get shocked ?”. As our body tissues are conducting, they provide passage to electrons/charges through our body.  “Electric Shock” is defined as the flow of electricity through body or part of […]

Powered by WordPress.com.

Up ↑