“हे रघुनन्दन ! यह सब फेसबुक की माया है !”

महामुनि, धैर्य की प्रतिमूर्ति , भगवान श्रीराम  एक अँधेरी गुफा में लक्ष्मण जी के साथ बैठे थे | बाली वध के पश्चात सुग्रीव को सिंहासनासीन किये काफी समय बीत गया था | परन्तु सुग्रीव की ओर से कोई सन्देश नहीं आया | सीता माता के हरण के बाद एक एक क्षण एक एक युग के... Continue Reading →

Powered by WordPress.com.

Up ↑